कोरोना जांच का नोडल सेंटर बना जीएसवीएम

कोरोना जांच का नोडल सेंटर बना जीएसवीएम

KANPUR: कोरोना की पहचान के लिए होने वाली आरटीपीसीआर जांच की ट्रेनिंग के लिए जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज नोडल सेंटर बनाया गया है। जहां के माइक्रोबायोलॉजी डिपार्टमेंट में प्रदेश के दूसरे शहरों में जहां भी आरटीपीसीआर लैब शुरू होने वाली है, वहां के स्टाफ को ट्रेनिंग कानपुर से ही मिलेगी। यूपी सरकार ने पूरे आरटीपीसीआर जांच की ट्रेनिंग के लिए प्रदेश में ऐसे तीन सेंटर नामित किए हैं। जिसमें जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज के अलावा अलीगढ़ का जवाहर लाल नेहरू मेडिकल कॉलेज और गोरखपुर का बीआरडी मेडिकल कॉलेज भी है।

जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज की कोविड लैब में आरटीपीसीआर टेस्ट की ट्रेनिंग के लिए 5 दिन का ट्रेनिंग सेशन शुरू किया गया है। पहले सेशन में जौनपुर से आए माइक्रोबायोलॉजिस्ट और लैब टेक्नीशियन की ट्रेनिंग पूरी भी हो चुकी है। माइक्रोबायोलॉजी डिपार्टमेंट में ट्रेनिंग की नोडल अफसर डॉ.मधु यादव हैं। ट्रेनिंग के दौरान सैंपल कलेक्शन, कोरोना वायरस को न्यूट्रलाइजेशन, वायरस का आरएनए निकालना, आरटी पीसीआर करना और डाटा मैनेजमेंट को लेकर जानकारी दी जाती है।